समर्थक

रविवार, 10 अप्रैल 2011

ये लुका-छिपी क्यों? कन्नामुची येन्नडा?



क्षीरसागर में रहते हुए भी आपका रंग धवल क्यों नहीं हुआ?
ऐश्वर्य राय पर फिल्मांकित इस मधुर गीत को गाया है चित्रा ने। इसी गीत का एक अन्य दोगाना संस्करण डॉ येसुदास के दैवी स्वर में भी है। वह फिर कभी। वैरामुत्थु के शब्दों पर सहज नृत्य ऐश्वर्य राय का, राजीव मेनन की कोरियोग्राफी और ए आर रहमान का संगीत। तमिल फिल्म कन्दुकोन्देन कन्दुकोन्देन के इस गीत "कन्नामुची येनडा" के बोलों का अंग्रेज़ी अनुवाद भी विडियो में है।

[फिल्म मौन रागम (1985) की समीक्षा]

पुरातन पोस्ट पत्रावली

कोई टिप्पणी नहीं:

ब्लॉग निर्देशिका - Blog Directory

हिन्दी ब्लॉग - Hindi Blog Aggregator

Indian Blogs in English अंग्रेज़ी ब्लॉग्स