समर्थक

गुरुवार, 7 जुलाई 2011

बार-बार दिन ये आये - दलाई लामा का जन्म दिन

"मुझे चीन के कट्टरपंथियों पर दया आती है ... भारत में लोकतंत्र की जड़ें गहरी हैं, यहां पारदर्शिता है ... चीन में सरकार गोपनीय है। चीन को भारत से सीखना चाहिए।" ~दलाई लामा

दलाई लामा
तिब्बती आध्यात्मिक गुरु महामहिम दलाई लामा (तेनजिन ग्यात्सो) इस बुधवार 6 जुलाई 2011 को 76 साल के हो गए। भारत और नेपाल के साथ सारे विश्व में उनका जन्मदिन आदर और प्रेम के साथ मनाया गया। लोगों ने दलाई लामा की दीर्घायु के साथ तिब्बत की स्वतंत्रता के लिये भी प्रार्थनायें कीं। तिब्बती मंत्रिमंडल कशाग ने एक वक्तव्य में मानव दुखों को दूर करने और लम्बे समय तक उसका मार्गदर्शन करने के लिए दलाई लामा के प्रति आभार व्यक्त किया।

दलाई लामा इस समय अमेरिका के दौरे पर हैं। लोकतंत्र के लिए उनके अहिंसक आंदोलन व अपनी मातृभूमि तिब्बत की स्वतंत्रता के लिए किए गए संघर्ष के लिए 1989 में नोबेल शांति पुरस्कार मिला था। दलाई लामा ने कहा कि उन्हें भरोसा है कि वे स्वतंत्र तिब्बत देखेंगे और वहां की चुनी हुई सरकार को सत्ता सौंपेंगे। दलाई लामा के अनुसार तीन दशकों में तिब्बत आजाद हो जाएगा।

तथास्तु!

तिब्बत से भागते बच्चों पर कम्युनिस्ट अत्याचारों की कहानी

[चित्र अनुराग शर्मा द्वारा :: Photo by Anurag Sharma]
===========================================
सम्बन्धित कड़ियाँ
===========================================
* बार-बार दिन यह आए
* चीनी दमन और तिब्बती अहिंसा
* तिब्बत के मित्र
* भारत तिब्बत समंवय केन्द्र
* मैं 113 साल जिऊंगा - दलाई लामा
* दलाई लामा की अमरीका यात्रा पर चीन नाराज़

पुरातन पोस्ट पत्रावली

2 टिप्‍पणियां:

रविकर ने कहा…

सदर प्रणाम |

Dr (Miss) Sharad Singh ने कहा…

दलाई लामा का जन्म दिन ....बार-बार दिन ये आये ....आमीन...

ब्लॉग निर्देशिका - Blog Directory

हिन्दी ब्लॉग - Hindi Blog Aggregator

Indian Blogs in English अंग्रेज़ी ब्लॉग्स