समर्थक

बुधवार, 21 सितंबर 2011

मेरी क़िस्मत में तू नहीं शायद - प्रेमरोग (1982)


लता मंगेशकर और सुरेश वडकर के स्वर
संतोष आनन्द के शब्द, शंकर-जयकिशन का संगीत

1 टिप्पणी:

दीपक बाबा ने कहा…

किसकी किस्मत में कौन नहीं है भाई .

ब्लॉग निर्देशिका - Blog Directory

हिन्दी ब्लॉग - Hindi Blog Aggregator

Indian Blogs in English अंग्रेज़ी ब्लॉग्स