समर्थक

शनिवार, 24 दिसंबर 2011

शुभ क्रिसमस! तेरी है ज़मीं, तेरा आसमाँ - द बर्निंग ट्रेन (1980)

मौसम भले ही ठंडा हो, दिल भरकने चाहिये!

सर्वे भवंतु सुखिनः सर्वे संतु निरामया
सर्वे भद्राणि पश्यंतु मा कश्चिद् दुखःभाग्भवेत्
आप सभी को बड़े दिन की शुभकामनायें!

स्वर: सुषमा श्रेष्ठ, पद्मिनी कपिला, जयश्री शिवराम
संगीत: राहुल देव बर्मन; गीत साहिर लुधियानवी

कोई टिप्पणी नहीं:

ब्लॉग निर्देशिका - Blog Directory

हिन्दी ब्लॉग - Hindi Blog Aggregator

Indian Blogs in English अंग्रेज़ी ब्लॉग्स