समर्थक

सोमवार, 31 दिसंबर 2012

अँधियारा गहराया - सारांश


पत्तों का तिनकों का बना था घर मेरा
ढह गया बह गया अब कहाँ बसेरा
गीत: वसंत देव; संगीत: अजीत वर्मन; स्वर: भूपेन्द्र

एक अनुरोध
बलात्कार के विरुद्ध फास्ट ट्रैक न्यायपीठों हेतु जनहित याचिका को समर्थन दीजिये
पुरातन पोस्ट पत्रावली

2 टिप्‍पणियां:

रविकर ने कहा…

मंगलमय नव वर्ष हो, फैले धवल उजास ।
आस पूर्ण होवें सभी, बढ़े आत्म-विश्वास ।

बढ़े आत्म-विश्वास, रास सन तेरह आये ।
शुभ शुभ हो हर घड़ी, जिन्दगी नित मुस्काये ।

रविकर की कामना, चतुर्दिक प्रेम हर्ष हो ।
सुख-शान्ति सौहार्द, मंगलमय नव वर्ष हो ।।

dharam tang ने कहा…

ऐसे फ़ास्ट ट्रेक कोर्ट से कुछ नहीं होगा ,हमें अपने आप में सुधार लाना होगा क्युकी हम्मे ही कुछ कमिया है /
हैकिंग इन हिंदी

ब्लॉग निर्देशिका - Blog Directory

हिन्दी ब्लॉग - Hindi Blog Aggregator

Indian Blogs in English अंग्रेज़ी ब्लॉग्स