समर्थक

शनिवार, 10 दिसंबर 2016

गीता जयंती की मंगलकामनाएं

मार्गशीर्ष मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी - आज ही के दिन कुरुक्षेत्र के रणक्षेत्र में भगवान कृष्ण ने अर्जुन के बहाने हम सब के लिये गीता गाई थी

शमो दमस्तपः शौचं क्षान्तिरार्जवमेव च ।
ज्ञानं विज्ञानमास्तिक्यं ब्रह्मकर्म स्वभावजम् ॥

पुरातन पोस्ट पत्रावली

1 टिप्पणी:

जसवंत लोधी ने कहा…

जय श्री कृष्ण ।

ब्लॉग निर्देशिका - Blog Directory

हिन्दी ब्लॉग - Hindi Blog Aggregator

Indian Blogs in English अंग्रेज़ी ब्लॉग्स